Brahmachari Dr. Girish Chandra Varma Ji Blog


ब्रह्मचारी गिरीश जी ने लॉक डाउन की अवधि में तनावमुक्त रहने के गुर बताए

ब्रह्मचारी गिरीश जी ने लॉक डाउन की अवधि में तनावमुक्त रहने के गुर बताए

ब्रह्मचारी गिरीश जी ने लॉक डाउन की अवधि में तनावमुक्त रहने के गुर बताए  01/05/2020 03:35:28 PM   ब्रह्मचारी गिरीश जी ने लॉक डाउन की अवधि में तनावमुक्त रहने के गुर बताए   admin

नकारात्मकता के अंधकार से सकारात्मकता के प्रकाश की ओर १. साधना और आराधना में सबसे अधिक समय लगाएं । २. टीवी समाचार प्रात: संध्या १०-१० मिनट देख लें बाकी समय टीवी बंद रखें। यह समय अपने आप को मानसिक व शारीरिक रूप से स्वास्थ्य व शक्तिशाली रखने का है, दुर्बल करने का नहीं। ३. कोरोना से वचाव संवंधी केवल सरकारी सर्कुलर और नोटिफिकेशन्स पर ध्यान दें, डॉक्टर्स की सलाह को मानें। ४. लॉक डाउन तथा आपके शहर में व्यवस्था संबंधी स्थानीय प्रशासन के आदेशों का कड़ाई से पालन करें। ५. अपना ध्यान व समय केवल सकारात्मक विषयों व बातों में लगायें। विद्यार्थी इंडोर गेम्स खेलें। अपने माता-पिता, दादा-दादी, नाना- नानी या अन्य बड़ों को मोबाइल फ़ोन के फीचर्स सिखाएं, इसमें एसएमएस सन्देश भेजना, व्हाट्सअप्प चलाना, ऑडियो या वीडियो कॉल्स करना, इंटरनेट सर्फिंग करना हो सकता है। ६. अपने परिचित या अपने क्षेत्र के समाजसेवी, पुलिसकर्मी, पैरामिलिट्री फाॅर्स, डॉक्टर, नर्सेस, स्वच्छ्ताकर्मी, घर - घर जाकर सामान वितरित करने वाले कार्यकर्तांओं, सेनिटाइजेशन करने वालों जैसे सेवारत व्यक्तियों को फ़ोन करके उनका धन्यवाद करें। ७. आपके क्षेत्र में यदि किन्ही व्यक्तिओं को भोजन की आवश्यकता हो तो सरकारी अथवा स्वयंसेवी संस्थानों के माध्यम से उनकी सहायता करें। ८. ऐसे राष्ट्रीय और वैश्विक संकट के समय विभिन्न वर्गों, जाती, धर्म के आधार के बांटकर अव्यवस्था फ़ैलाने वालों, अनुचित लाभ लेने वालों, और घृणा का वातावरण फ़ैलाने वालों से सावधान रहें और इसकी सुचना स्थानीय प्रशासन को दें। ९. अपने घर में, परिवार में, अपने क्षेत्र में परस्पर प्रेम, सामंजस्य, सौहार्द और शांति का वातावरण बनायें रखें। किसी भी कारण से परेशान व्यक्तियों को सांत्वना दें और यथासंभव उनकी सहायता करें। स्वयं प्रसन्न रहें और अपने आसपास सबको प्रसन्न रखें। १०. आपकी तरफ से उठाये गए ये सावधानी के कदम से हमारे प्रधानमंत्री जी, भारत सरकार, हमारी प्रान्तीय संस्कारों व स्थानीय प्रशासन को सुदृढ़ता प्रदान करेंगे, जिसकी उन्हें बहुत आवश्यकता है। जय भारत, वन्देमातरम ब्रह्मचारी गिरीश जी, अध्यक्ष - महर्षि संस्थान


0 Comments

Leave a Comment